Current View
विकल्प
विकल्प
₹ 150+ shipping charges

Book Description

परिवार हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा होता है या ये कहना ज्यादा ठीक होगा कि हम इसका एक हिस्सा होते हैं। परिवार की अहमियत किसी भी अन्य संस्था से कम नहीं आंकी जा सकती है। एक गृहिणी के लिए परिवार को संभालना किसी जद्दोजहद से कम नहीं होता जिसमें कभी वह खुशी के सागर में गोते लगाती है तो कभी किनारे की चट्टानों से टकराकर लहूलुहान हो जाती है, फिर भी वह तैरकर वापिस आती है क्योंकि यह उसका परिवार है और इसे वही संभाल सकती है। कभी-कभी साधारण स्त्री के सामने भी ऐसी दुविधा आ जाती है कि वह समझ नहीं पाती की आखिर क्या विकल्प चुना जाये?