Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

kuchh to kahoon / कुछ तो कहूँ

Author Name: Sumit Kumar | Format: Paperback | Genre : Poetry | Other Details
Amazon Sales Rank: Ranked #6 in Asian

सुमित कुमार द्वारा लिखित "कुछ तो कहूँ" पुस्तक पढ़ने के लिये खजाना है। जो प्रेरणा से परिपूर्ण है। ये एक बहुमूल्य किताब है, जो सबके पढ़ने योग्य है। कवि ने प्रवाहमय भाषा के प्रयोग से मेरे अंतर्मन को छू लिया और इसकी विषय वस्तु उत्तम है।

-- वसीम अकरम सहायक प्रोफेसर

Read More...
Paperback

Also Available On

Paperback 115

Inclusive of all taxes

Delivery by: 28th Jan - 1st Feb

Also Available On

सुमित कुमार

सुमित कुमार का जन्म 10 जून, 1983 को हरियाणा के जींद जिले के छोटे से गांव रोजखेडा में हुआ। प्राथमिक शिक्षा गावँ में हुई। आपने हिंदी साहित्य में स्नात्कोत्तर तथा सन 2012 में यूजीसी नेट क़्वालिफाई किया। उसके बाद आपने अपने कैरियर की शुरुआत जनवरी 2007 में चन्डीगढ फायर सर्विस में एक फायरमैंन के रुप में की। बाद में अगस्त 2007 में हरियणा पुलिस में सिपाही के पद पर चयनित हुए और आप जुलाई 2013 से नूहँ में हिंदी प्रवक्ता के पद पर कार्यरत्त हैं। 

युवा पीढी को प्रेरित करने वाली आपकी कविता, मुक्तक व अशआर उम्दा व दुरगामी परिणाम देने वाले हैं। आपकी प्रथम पुस्तक “कुछ तो कहूँ” हम सभी में एक नई उर्जा व हौंसला उत्पन करेगी ऐसा मुझे विश्वास है।

Read More...