Share this product with friends

Tadap / तड़प

Author Name: Shishir Madhukar | Format: Paperback | Genre : Poetry | Other Details

प्रसन्नता” और “वियोग" में दिल से निकलने वाली गहरी भावनाएं तो समस्त मानव जाति के पास होती हैं, जिनकी बेहतर कलात्मक अभिव्यक्ति या प्रशंसा के द्वारा ही वो खुद को अन्य प्राणियों से अलग कर पाती है।  वर्तमान पुस्तक "तड़प" में संकलित रचनाएं, समय समय पर प्रकृति और पुरुष के मन में एक दूजे के लिए उठने वाली खुशी और विरह से उत्पन्न भावनाओं की सरल शब्दों में, गजल  प्रारूप में, अभिव्यक्ति है।

Read More...

Sorry we are currently not available in your region. Alternatively you can purchase from our partners

Also Available On

Sorry we are currently not available in your region. Alternatively you can purchase from our partners

Also Available On

शिशिर मधुकर

आम बोलचाल की हिंदी भाषा में बिना कठिन शब्दों का घालमेल किए इंसानी मन की भावनाओं को आसानी से कविता रूप में कह देने में निपुण शिशिर मधुकर (पूरा नाम : डॉ. शिशिर कुमार गोयल) का जन्म उत्तर प्रदेश के हापुड़ में हुआ। मेरठ विश्वविद्यालय से भौतिक शास्त्र में परास्नातक करने के उपरान्त आपने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय से इसी विषय में  पी ० एच ० डी ० की उपाधि प्राप्त की।  विगत लगभग बाईस वर्षों से आप एक वैज्ञानिक अधिकारी के रूप में भारत सरकार की प्रौद्योगिकी सूचना, पूर्वानुमान एवं मूल्यांकन परिषद् , नई दिल्ली में कार्यरत हैं।  नोशन प्रेस, चेन्नई ने पूर्व में में इनके तीन कविता संग्रह "यादों के नासूर ", "रूह के एहसास" एवं"निशानियां" सफलता पूर्वक प्रकाशित किए हैं, जो इस प्रेस के बुक स्टोर के अलावा अन्य ई कॉमर्स साइटों पर भी आसानी से उपलब्ध हैं

हिंदी के अतिरिक्त अंग्रेजी भाषा में भी कवितायें लिखने में भी आपकी गहरी रूचि है व वर्चूअल स्पेस में आपकी रचनाओं को www.hindisahitya.org, www.familyfriendpoems.com और www.forums.familyfriendpoems.com  पर भी पढ़ा जा सकता है।

Read More...