10 Years of Celebrating Indie Authors

pranita meshram

कोरोना की स्थिति पर कविता

By pranita meshram in Poetry | Reads: 106 | Likes: 1

                     देखने से लग रहा है,            आज प्रकृति कि छटा बिखर रही है,            परंतु   Read More...

Published on Apr 27,2020 09:51 PM

अब लौह बनकर निकलूंगी

By pranita meshram in Poetry | Reads: 93 | Likes: 1

जलती रही तेर झूठे अभिमान के अंगारों में,  अब लौह बनकर निकलूंगी,  जो छुआ तूने मुझे तो  सबसे बुरा तेरा हश्न करूंगी   Read More...

Published on Apr 22,2020 09:12 PM

कोरोना की स्थिति पर कविता

By pranita meshram in Poetry | Reads: 97 | Likes: 1

                                     देखने से लग रहा है,            आज प्रकृति कि छटा बिखर रही है, &n  Read More...

Published on Apr 22,2020 09:07 PM

हम यूं ही तो ना मिले होंगे.....

By pranita meshram in Poetry | Reads: 160 | Likes: 0

            कहते हैं खुदा उनसे ही मिलाता है              जो किस्मत में लिखे होंगे ,    &nb  Read More...

Published on Mar 23,2020 12:34 PM

मैं इस देश की बेटी हूँ

By pranita meshram in Poetry | Reads: 173 | Likes: 0

  तू कमजोर नहीं है, जो                                  अपने वक्त को यूं गवायेगी।             &nb  Read More...

Published on Mar 23,2020 12:22 PM

हक देती नहीं मैं

By pranita meshram in Poetry | Reads: 247 | Likes: 1

हक देती नहीं मैं उन्हें जो कहते हैं,                 बेटी  पराया  धन  होती  है।           Read More...

Published on Mar 23,2020 12:12 PM

नारी तू प्रयास कर

By pranita meshram in Poetry | Reads: 133 | Likes: 1

       चल निकल प्रथस्त पथ पर,         इस धरती का अभिमान हैै तू।         हृदय भी दे दूँआ जिसे देखकर,       &nb  Read More...

Published on Mar 23,2020 12:00 PM

नारी

By pranita meshram in Poetry | Reads: 126 | Likes: 1

        चल निकल प्रथस्त पथ पर,         इस धरती का अभिमान हैै तू।         हृदय भी दे दूँआ जिसे देखकर,       &  Read More...

Published on Mar 23,2020 11:41 AM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/