#National Writing Competition

Shubh Chintan

The author is an IRS officer of the 1993 batch. He was educated at the AMU and IIT Delhi. He has been awarded appreciation certificates from the President of India for distinguished public services and World Customs Organisation (WCO) for distinguished services in Customs Administration. He has authored eight books of Hindi Ghazals namely oat se man dikhta hai, matakia bhari nahi, sanvaad Ram aur Kanha se, misra misra ghazal ashikaana hui, ek indradhanush shatrangi, ek mangalyaan kavitaon ka, bulbule tasavvur ke and surahi me samundar.Read More...

शिलाएँ बोलती हैं

Books by शुभ चिंतन

ग़ज़लों में हिन्दी का ज़्यादा से ज़्यादा समावेश कर उन्हें और हिंदुस्तानी और सरल क्यों
ना बनाएँ I इस संग्रह में यही प्रयास कि या है I आज़ा दी का अमृत महोत्सव भी चल रहा
है I कु छ ग़ज

Read More... Buy Now

सुराही में समुन्दर

Books by शुभ चिंतन

लेखक की क़रीब सौ ग़ज़लों और नज़्मों के इस मेले में ग़ज़ल को ज़िन्दगी में और ज़िन्दगी को ग़ज़ल में उतारने की कोशिश की गई है। ये ग़ज़लें इंसानी ज़िन्दगी के रूहानी पहलुओं को बयाँ कर

Read More... Buy Now

बुलबुले तसव्वुर के

Books by शुभ चिंतन

लेखक की क़रीब सौ ग़ज़लों/नज़्मों  की हर ग़ज़ल/ नज़्म जैसे  तसव्वुर (कल्पना) के समुन्दर में उठने वाला एक बुलबुला है जिसकी पहचान इश्क़, विद्रोह, जंग, वेदना, आक्रोश, ख़ुदा, दिल और कायना

Read More... Buy Now

एक मंगलयान कविताओं का

Books by शुभ चिंतन

मानव मन एक अंतरिक्ष की तरह है, असीमित, अनंत, रहस्यमयी और रोमांचकारी किंतु एक व्यवस्था से, एक असीम सत्ता से संचालित I कविताओं का यह संग्रह उस यान की तरह है जो उस अनंत विस्तार में कदम

Read More... Buy Now

एक इंद्रधनुष शतरंगी

Books by शुभ चिंतन

सौ कविताओं का ये संकलन एक इंद्रधनुष की तरह

है पर सप्तरंगी नहीं शतरंगी। इन कविताओं में प्रेम,

विद्रोह , रोष, माँ, बेटी, पिता, बेचैनी, उदासीनता,

देशभक्ति , निराशा, साँस, कली, चाँ

Read More... Buy Now

मिसरा मिसरा गजल आशिकाना हुई

Books by शुभ चिंतन

कविताओं के इस संकलन में विभिन्न तरह के भाव व्यक्त किए गए हैं, इश्क़ यानी प्रेम को दर्शाते हुएl सिर्फ़ महबूब और महबूबा की नहीं है ये कोई मिल्कियत; ख़ुदा और बन्दे के बीच जो रिश्ता है

Read More... Buy Now

ओट से मन दिखता है

Books by शुभ चिंतन

पचास कविताओं का एक छोटा सा संकलन है ये। कविताओं में सभी तरह के भाव व्यक्त किए गए हैं। जो अपने मन में है या इससे जुड़ा हुआ है, उसे शब्द देने का एक प्रयास है। संकलन को और बड़ा भी रखा जा

Read More... Buy Now

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/