Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

Premarth / प्रेमार्थ

Author Name: Nikhil Jain I I Pooja Gautam I I Anika Jain | Format: Paperback | Genre : Poetry | Other Details

निखिल जैन

प्रेमार्थ आधार जीवन का, प्रेम ही परम सत्य,
प्राणी के अंतर्मन में, प्रेम राग ही निहित है।।

पूजा गौतम

"प्रेम" वो सुकून, जो दिल की गहराई में उतरकर, धड़कनों तक कंपन कर जाता है वो चरमोत्कर्ष पर उमड़ते एहसास, जज़्बात में तब्दील हुए, इक मुलाकात में आबाद हुआ, पहला पड़ाव पूरा कर जाता है। उस सूखाग्रस्त जीवन में, रिमझिम बरखा बन, ज़िंदगी हरियाली इस तरह कर जाता है। यही प्रेम नर और नारी के जुड़ाव का दर्पण बन, संसार में विख्यात हो पाता है।।

अनिका जैन

जोगी बन या भोगी बन, प्रेम के रंग में जा रंग,
संपूर्ण समर्पण जीवन का, निहित प्रेमार्थ के वर्ण।।

Read More...
Paperback
Paperback 110

Inclusive of all taxes

Delivery by: 27th Apr - 30th Apr

Also Available On

निखिल जैन II पूजा गौतम II अनिका जैन

निखिल जैन
निखिल जैन एक 26 वर्ष के नवयुवक है, जो की धुले, महाराष्ट्र से संबंध रखते है। ये 70 से अधिक किताबों का हिस्सा रह चुके है और इनके खुद के काफ़ी संकलन जैसे की "L'amour", "बंधन रिश्तों के", "प्रकृति एक जादुई पिटारा", "रूहानी बातें", "माँ - मेरे जीवन की प्रेरणा", "L'amour 2" प्रकाशित हो चुके है। आप इनकी लेखनी इंस्टाग्राम पर पढ़ सकते है : @love.vibes143 ईमेल - love.vibes143@outlook.com

पूजा गौतम
इनका नाम पूजा गौतम है। यह दिल्ली की रहने वाली हैं। इन्होंने इतिहास में स्नातकोत्तर और बी.एड किया है। इनके स्वयं के तीन संकलन ( Her Life's Liberty, मां - मेरे जीवन की प्रेरणा, और My Heart hurts प्रकाशित हो रहें है और स्वयं की एकल पुस्तक (प्रेमार्थ) निखिल जैन और अनिका जैन के साथ प्रकाशित हो रही हैं। इंस्टा - @seapearl700

अनिका जैन
अनिका जैन, मोहब्ब्त की नगरी ताज नगरी, आगरा उत्तर प्रदेश से संबंध रखती है, लिखना इनका शौक ही नहीं पेशा भी है। इन्होंने 70 से ज्यादा किताबो में बतौर सह लेखक कार्य के चुकी है और इनके खुद के दो संकलन "curing minds" और "बंधन रिश्तों के" प्रकाशित हो चुके है एवं बाकी प्रकाशन को अग्रसर है।आप इनकी लेखनी पढ़ सकते है – Instagram handle: @rumifam1803
G-mail - jainanika650@gmail.com

Read More...