Join India's Largest Community of Writers & Readers

veerendra kumar Dewangan

Read More...

लाल बहादुर शास्त्री

Books by वीरेंद्र देवांगन

‘लालबहादुर शास्त्री की जीवनी’ का सार
लालबहादुर शास्त्री सादा जीवन, उच्च विचार के हिमायती थे। विवेकानंद व महात्मा गांधी के विचारों का गहरा प्रभाव उनके जीवन पर पड़ा था। वे कथ

Read More... Buy Now

निबंधःः कोविद-2019

Books by वीरेंद्र देवांगन

‘कोविड-19’ का सार
भारत सहित दुनियाभर के लिए कोविड-19 एक ऐसी दहशतनाक महामारी बनकर उभरी है, जो मनुष्य-से-मनुष्य में फैल रही है। यह किसी वय के व्यक्ति को, कहीं पर भी और किसी समय भी लपेटे

Read More... Buy Now

10 लघुकथाएंः संकलन-1

Books by वीरेंद्र देवांगन

10 लघुकथाएंः संकलन-1
    लघुकथाओं के बारे में
 प्रस्तुत लघुकथा-संग्रह में 10 लघुकथाएं हैं। इनके शीर्षक हैं-मौकापरस्त, अनुशासन, घर का सपना, संघर्ष, बुरे काम का बुरा नतीजा, मदर्

Read More... Buy Now

चीन का विस्तारवाद

Books by वीरेन्द्र देवांगन

         प्रस्तुत किताब ''चीन का विस्तारवाद'' चीन के उस खतरनाक खेल को रेखांकित करता है, जिसकी नीति न केवल पडोसी देशों की जमीन को हड़पना रहा है, बल्कि आर्थिक व सैन्य शक्ति से कमजोर मुल्को

Read More... Buy Now

अकादमिक बहस

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Academic Debate is an article by Veerendra kumar Dewangan

Read More... Buy Now

दिल्ली में दंगा

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Riot in Delhi is an article written by VEERENDRA KUMAR DEWANGAN

Read More... Buy Now

पाकिस्तान की फजीहत

Books by

Pakistan Ki Phajeehat  is an article by VEERENDRA KUMAR DEWANGAN

Read More... Buy Now

बाप बड़ा न मैया

Books by

Baap bada na maiya is an article by VEERENDRA KUMAR DEWANGAN

Read More... Buy Now

कोरोना वायरस

Books by

Corona Virus is an article written by VEERENDRA KUMAR DEWANGAN

Read More... Buy Now

बच्चों में बचत की आदत

Books by

bachchon mein bachat kee aadat is an article by VEERANDRA KUMAR DEWANGAN

Read More... Buy Now

मिलावट के सौदागर

Books by

Milaavat ke saudaagar is an article by author VEERENDRA KUMAR DEWANGAN

Read More... Buy Now

रैगिंग

Books by

Raiging is an article by author VEERENDRA KUMAR DEWANGAN

Read More... Buy Now

अकादमिक बहस

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Academic debate

Read More... Buy Now

डेथ वारंट

Books by

Death warrant

Read More... Buy Now

आफत में मासूमों की जान

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Life of innocent people in trouble

Read More... Buy Now

संघर्ष की तपन

Books by

Struggle heat

Read More... Buy Now

इंटरनेट पर अश्लील सामग्री

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Pornographic content on the internet

Read More... Buy Now

डिटेंशन सेंटर

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Detention Center

Read More... Buy Now

रोजाना 175 बच्चे लापता

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

175 children missing daily

Read More... Buy Now

माता-पिता का भरणपोषण

Books by वीरेंद्र कुमार

Parental maintenance

Read More... Buy Now

पुलिस का शौर्य

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Police gallantry

Read More... Buy Now

भीषण बेरोजगारी

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Severe unemployment

Read More... Buy Now

बाल श्रमिक

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Child Labour

Read More... Buy Now

सकारात्मक सोच

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Positive thinking

Read More... Buy Now

भयावह अग्निकांड

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Catastrophic fire

Read More... Buy Now

कर भला, तो हो बुरा

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

kar bhala, to ho bura

Read More... Buy Now

बच्चों को सही दिशा देने की जरूरत

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

Need to give right direction to children

Read More... Buy Now

दूसरी पारी

Books by

Just as there is a second innings in sports, so too is a second innings in life. Good players perform well in the first innings, as well as in the second innings. Second innings occur in famous sports like cricket, other sports like kabaddi, badminton, tennis, lawn tennis, balibal, handball etc. The difference is that in these games it is called court swapping. But, this is the second innings.

Read More... Buy Now

हैवानों को सजा-ए-मौत

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

In Hyderabad, Telangana, where the Havans committed havoc with a female vet, they were killed in an encounter with the police. According to the Telangana police, the incident took place between 5.45 and 6.15 in the morning when they took them to the scene of the four accused for recreation of the incident. On getting off the bus, one of the accused Mohammad Arif snatched the weapon of the police and started firing on the police. Read the book to know more

Read More... Buy Now

बार-बार रुलाता प्याज

Books by

The book discusses about inflation and the adverse effects on the soceity.

Read More... Buy Now

हवा-पानी सब खराब

Books by

The book is about air and water all bad

Read More... Buy Now

काजल की कोठरी

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

लगभग एक माह तक चले महाराष्ट्र के सियासी द्वंद्व का पटाक्षेप हो गया। भाजपा के हाथ मायूसी लगी, तो उद्धव ठाकरे राकांपा और कांग्रेस की बैशाखी पर सवार होकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

Read More... Buy Now

मिलिए प्रबंधन गुरु से

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

An inspirational book on management

Read More... Buy Now

काल बन चुकी है सड़कें

Books by वीरेंद्र कुमार देवांगन

The book is on era has become roads

Read More... Buy Now

वायु प्रदूषण की विकरालता

Books by

The book talks about degradation of air pollution

Read More... Buy Now

तीज-त्योहारों का महत्व

Books by

The book discusses the importance of Teej festivals

Read More... Buy Now

अवैध घुसपैठियों की समस्या

Books by

The book discusses the problem of illegal intruders

Read More... Buy Now

घर का चिराग

Books by

प्रस्तुत बाल उपन्यास ‘घर का चिराग’ बच्चाचोरी को लेकर लिखा गया है। इसमें दो अभागे बालकों की कथा है, जिनका बचपन गरीबी ने छिन लिया है। वे बालीउम्र में ही घर का जिम्मा उठाने के लिए बड़

Read More... Buy Now

जैसे को तैसा

Books by

एक अदद इस्पात उद्योग के लिए तरस रहा था। बेरोजगारी चरम पर थी। हालांकि सरकार ने मावलीभाटा, लोहंडीगुड़ा और रायकोट में इस्पात उद्योग लगाने का प्रयास किया, मगर वह इन जगहों में विध्नबाध

Read More... Buy Now

लघुकथा;सहारा

By veerendra kumar Dewangan in General Literary | Reads: 249 | Likes: 1

लघुकथा सहारा 10 साल का दिनेश यह मर्म भली-भांति समझने लगा था कि इंसान सहित जीव-जंतुओं के लिए भोजन और पानी बेहद जरूरी ह  Read More...

Published on May 26,2020 04:33 PM

‘राष्ट्र’ से बड़ा ‘धर्म’ नहीं

By veerendra kumar Dewangan in General Literary | Reads: 253 | Likes: 0

महात्मा गांधी ने एक बार कहा था,‘‘वास्तव में, जितने व्यक्ति होते हैं, उतने उनके धर्म होते हैं, किंतु राष्ट्र एक ह  Read More...

Published on Apr 15,2020 04:30 PM

जागो हिंदुस्तानी जागो

By veerendra kumar Dewangan in True Story | Reads: 372 | Likes: 0

महाभारत का एक प्रसंग है। महाभारत के महायुद्ध में अपने पिता द्रोणाचार्य के धोखे से मारे जाने से अश्वत्थामा का ह्दय  Read More...

Published on Mar 25,2020 06:23 PM

कोरोनावीरों को सलाम

By veerendra kumar Dewangan in True Story | Reads: 505 | Likes: 1

डॉक्टर, पुलिस, नर्स, सेना, सफाई कर्मी, तकनीशियन, सरकारी कर्मचारी, प्रशासनिक अधिकारी, मीडिया कर्मी, जिन्होंने कोरोना   Read More...

Published on Mar 23,2020 10:35 PM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/