Join India's Largest Community of Writers & Readers

Shubham Priyadarshan

Read More...

कृष्ण क्या मैं बन सकूँगा,क्या कभी तू पार्थ होगा?

By Shubham Priyadarshan in Poetry | Reads: 59 | Likes: 0

जो समझ आई वही ,तुमको भी मै समझा रहा हूँ। तुमसे करने कह रहा हूँ ,खुद नही कर पा रहा हूँ। राह तो है ही कठिन,मैं भी नही चल पा   Read More...

Published on Apr 5,2020 08:11 AM

पुत्र का शव

By Shubham Priyadarshan in Poetry | Reads: 90 | Likes: 0

कुंवर मेरे तुम तनिक प्रश्न में, त्याग गए क्यों जीवन सारा, क्यों तुमने मृत्यु अपनाई, पूछ रहा है तात तुम्हारा। पाहुन&su  Read More...

Published on Mar 27,2020 01:15 AM

आँसू

By Shubham Priyadarshan in Poetry | Reads: 89 | Likes: 0

बिछड़ कर तुजसे मरना था मगर मैं जी के आया हूँ, भरे हैं झखम दिल के अब उन्हें मैं सी के आया हूँ, नशे में हूँ मगर मयखाने में   Read More...

Published on Mar 25,2020 12:57 AM

सफलता

By Shubham Priyadarshan in Poetry | Reads: 98 | Likes: 0

चल पड़े हो अब न रुकना, अब नही तुमको है झुकना, अब कि जब है रार ठाना, लौट के वापस न जाना। हार होगी जीत होगी, नफ़रतें और प्रीत  Read More...

Published on Mar 23,2020 10:57 AM

जहाँ में सबको तो एक दिन

By Shubham Priyadarshan in Poetry | Reads: 91 | Likes: 0

जहाँ में सबको तो एकदिन,किसी से प्यार होता है। खुली आँखों से तब, रातों का बेड़ा पार होता है। ये दिल बेचैन रहता है, सदा इ  Read More...

Published on Mar 23,2020 10:44 AM

मोहब्ब्त का मतलब

By Shubham Priyadarshan in Poetry | Reads: 157 | Likes: 0

किसी से प्यार करते हो, तो फिर इज़हार क्या करना, जो मिलने का इरादा हो, तो फिर इक़रार क्या करना, मोहब्ब्त का तो मतलब ही,खुद   Read More...

Published on Mar 22,2020 07:24 PM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/