Indie Author Championship #6

Anshul Narain Pal

मुड़ा हुआ पन्ना

By Anshul Narain Pal in Poetry | Reads: 288 | Likes: 2

किताब का वो मुड़ा हुआ पन्ना आज फिर खोला था, सबसे पहले तो पीले  पड़ चुके काग़ज़ की महक आई। यादें टटोली तो ,नाराज़ होती सी ए  Read More...

Published on Apr 17,2020 02:22 PM

"पहले भी"

By Anshul Narain Pal in Fantasy | Reads: 290 | Likes: 3

क्या आपको कभी ऐसा लगा है कि जो पल अभी अभी गुज़रा है,वो आपकी अवचेतना में कभी-कहीं जीया जा चुका है।कोई चेहरा,कोई जगह,कोई   Read More...

Published on Apr 9,2020 04:53 PM

मनुजाति

By Anshul Narain Pal in General Literary | Reads: 115 | Likes: 0

भूतकाल से हित ता निकरा,        वर्तमान सब कष्ट विचारा। कैसे सुधरेगा काल भविष्य,       जग सोये जागे है रहस्य। क  Read More...

Published on Apr 2,2020 07:36 PM

मैं

By Anshul Narain Pal in Romance | Reads: 100 | Likes: 0

...तेरे सीने की गर्माहट को होंठ लगा पी जाऊं मै, सदियां साथ निभाने को इक पल में जी जाऊं मै, रूई सा लिपट  जाऊं मै लौ में त  Read More...

Published on Apr 2,2020 07:02 PM

Musafirat

By Anshul Narain Pal in Romance | Reads: 95 | Likes: 0

तेरी यादें लिए पलको पर हम सोये जिस तरफ, सुबह वो कौना तकिये का आंसुओ से भीगा हुआ पाया। मै छिल सा गया तेरी करवटों से,कुछ  Read More...

Published on Apr 2,2020 06:58 PM

Do bhaag

By Anshul Narain Pal in Poetry | Reads: 118 | Likes: 2

."....खयालो को तेरे मेने सुपुर्द-ए-खाक कर दिया है, तेरे इश्क़ को चिता पर अन्तिम दाग कर दिया है, एक से एक घाटे तो नतीजा सिफर   Read More...

Published on Apr 2,2020 06:41 PM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/