Join India's Largest Community of Writers & Readers

aanya saxena

पर देश हमारा ऐसा है

By aanya saxena in General Literary | Reads: 98 | Likes: 0

अच्छा लगता है जब पूरा देश एक साथ होके एक ही कदम चलता है, महामारी हो या कोई भी जंग, हर सफल प्रयास करता है, दुख है.... आज देश  Read More...

Published on Apr 22,2020 01:56 AM

उसके इरादे बदले लगते हैं

By aanya saxena in Poetry | Reads: 93 | Likes: 0

उसके इरादे बदले लगते हैं शायद किसी ने बहुत सताया है कोई अपना उसको छोड़ गया या फिर खुद की किस्मत ने रुलाया है बस हौसल  Read More...

Published on Apr 22,2020 01:53 AM

मैं ही क्यूँ

By aanya saxena in Poetry | Reads: 76 | Likes: 0

हमेशा मै ही क्यूँ समझूंकभी तुम भी तो समझो ना कुछ कह जाऊँ अनजाने मेंतो चुप तुम्ही फिर रह लो ना गुस्सा मेरा किसी काग़र  Read More...

Published on Apr 22,2020 01:47 AM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/