Join India's Largest Community of Writers & Readers

Arnab Sarkar

Writer and Engineer by Profession
Writer and Engineer by Profession
Read More...

वक्त का खेल

By Arnab Sarkar in Poetry | Reads: 192 | Likes: 0

यह वक्त का खेल तो देखो। अब बस घर में ही रहो। तुमने जो की थी साजिश समय से। संभल जाओ, यही समय रहते।। यह वक्त का खेल तो दे  Read More...

Published on May 18,2020 12:07 PM

पुतलो की आवाज

By Arnab Sarkar in Horror | Reads: 147 | Likes: 0

यह कहानी शुरु ‌‌‌होती है एक घटना से, तब मैं बहुत छोटा था। शायद मैं चतुर्थ या पंचम कक्षा में पढ़ता था। मैं और मेरा   Read More...

Published on May 16,2020 10:38 AM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/