साफ़ सड़क
By nddubey608 in Romance | Reads: 74,596 | Likes: 61
मैं वागा बॉर्डर की शाम की परेड देख, निकलने के लिए अपनी टैक्सी के इंतज़ार में एक चाय की दुकान पर बैठा था। तभी मेरी नजर ए  Read More...
Published on Jul 7,2022 12:23 PM
कौन सही
By Meenu kaur in Women's Fiction | Reads: 54,874 | Likes: 16
                              कौन सही मेताइन के पिता की मृत्यु हो गई थी। घर के बाहर सीढ़ियों पर ही उनके प्  Read More...
Published on Jun 14,2022 05:19 PM
गुलमोहर
By Meghna Mehra in Children's Literature | Reads: 54,423 | Likes: 4,909
              हर शाम मुझेइंतजार रहता है। वह जैसे ही इस बाग में आती है, हर कली जैसे... जैसे खुद खिल जाती है और कहती   Read More...
Published on Jul 10,2022 08:04 PM
मेरी चांदनी हो तुम
By Samar Fatma in Women's Fiction | Reads: 50,814 | Likes: 5,234
अस्पताल में अफरातफरी का माहौल बना हुआ था। कुछ ही देर में डॉक्टर ने बताया के लड़की ने जन्म लिया है। ख़ुशी  का माहौल   Read More...
Published on Jun 14,2022 01:54 PM
कड़वी कॉफ़ी मीठी कॉफ़ी
By shilpisheen in Women's Fiction | Reads: 46,444 | Likes: 6,310
25 सालों के लंबे अंतराल के बाद रेशम और सरु एक दूसरे के आमने-सामने थे। रेशम के बालों में सफेदी थी सरु के बाल मेहंदी से ल  Read More...
Published on Jul 11,2022 12:02 AM
शहद की फ़ीकी लक़ीर (मोनोलॉग)
By Devesh Path Sariya in Mythology | Reads: 30,030 | Likes: 729
शीर्षक: शहद की फ़ीकी लक़ीर (मोनोलॉग) तुम्हारी स्मृतियों की छूट गई लकीर से बना एक शब्दचित्र है। गद्य है। सारी उलझन इस  Read More...
Published on Jun 11,2022 08:17 PM
डोम
By Lakhan Raghuvanshi in Romance | Reads: 28,962 | Likes: 420
  डोम वो अपने बारे में हर बात इतनी सहज और सामान्‍य तरीके से बताती है कि सबकुछ असामान्‍य सा लगता है। उसकी बात सुनत  Read More...
Published on Jul 10,2022 06:54 PM
ब्रेकअप के बाद
By 1011eyusuf567 in Mystery | Reads: 25,453 | Likes: 1,868
ना जाने क्यों मैं ऐसा हूं। हर वक्त गलत फैसले लेता हूं। आज भी मेरी ही गलती की वजह से यहां हूं। मैं चिंख्ता हूं चिल्ला  Read More...
Published on Jun 24,2022 04:29 PM
याद रहना
By Poonam in Autobiography | Reads: 20,119 | Likes: 212
कहानी याद रहना!  “पर डॉक्टर, मुझे तो सब याद रहता था! मुझे तो सब कंप्यूटर कहते हैं! मैं कोई डेट एक बार सुन लूँ, कभी नह  Read More...
Published on Jun 18,2022 05:44 PM
पवित्र रिश्ता
By Acharya Neeraj Shastri in Romance | Reads: 20,110 | Likes: 120
पवित्र रिश्ता मेहता साहब की बड़ी बेटी है अमिता । मेहता साहब ने अमिता और नमिता को बड़े नाजों से पाला है। नमिता एक साल  Read More...
Published on Jun 15,2022 02:48 PM
शाख के टूटे हुए पत्ते
By ASHISH SINGH in Autobiography | Reads: 19,119 | Likes: 539
परिवर्तन ही संसार का नियम है ।  यह तथ्य केवल तभी शोभायमान होता है , जब इसे अपने व्यवहारिक जीवन में अपनी बुरी आदतों   Read More...
Published on Jun 26,2022 12:42 PM
आमदनी जीरो
By hitesilour in True Story | Reads: 18,091 | Likes: 18
गोधुली से पूर्व ही आसमां में धूल का गुब्बार था। लेकिन सिद्धांत था कि उसका कोई अता-पता ही नहीं था। इससे ज्यादा बदनसी  Read More...
Published on Jul 10,2022 10:00 PM
सब ठाट पड़ा रह जाएगा , जब लाद चलेगा बंजारा
By talk2sehba in Young Adult Fiction | Reads: 17,528 | Likes: 1,389
 नैना जब से अपनी मेडिकल की पढ़ाई अधूरी छोड़ इंडिया आई है जाने कैसी हो गई है, कभी घंटों ख़ला में निहारती रहती है, कभी नी  Read More...
Published on Jul 5,2022 09:55 AM
माटी की महक
By Rina Choudhary in Young Adult Fiction | Reads: 14,884 | Likes: 74
माटी की महक चारो ओर गहमा-गहमी चल रही है। सभी अपने कामों में व्यस्त हैं, कोई दीवारों पर कलाकारी कर रहा है तो कोई फ़ानू  Read More...
Published on Jun 25,2022 07:14 AM
और अंत में प्यार हार गया.....!!!!
By Nidhi Gupta in Romance | Reads: 14,178 | Likes: 2,891
और अंत में प्यार हार गया.....!!!!  कहतें हैं स्त्री प्रेम और भविष्य में ,भविष्य को ही चुनती हैं,,,, पर सच तो यह भी है की पुरू  Read More...
Published on Jun 12,2022 04:55 PM