10 Years of Celebrating Indie Authors

Share this book with your friends

JNU Anant JNU Katha Ananta / जेएनयू अनंत जेएनयू कथा अनंता

Author Name: Jey Sushil | Format: Paperback | Genre : Biographies & Autobiographies | Other Details
Amazon Sales Rank: Ranked #62 in True Accounts

जे सुशील की पुस्तक दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में बिताए उनके छात्र जीवन का एक संस्मरण है। 2016 में कन्हैया कुमार की गिरफ़्तारी के बाद मीडिया द्वारा विश्वविद्यालय के बारे में फैलाई जा रही ग़लत सूचनाओं के बीच, यह पुस्तक उन लोगों के लिए एक आईना है, जिन्हें लगता है कि जेएनयू परिसर सिर्फ़ एक युद्ध का मैदान है, जहां वामपंथी और दक्षिणपंथी आपस में टकराते रहते हैं। लेकिन पुस्तक पढ़ते वक़्त, पाठक जेएनयू के छात्र-जीवन की एक अभूतपूर्व यात्रा पर निकलता है और महसूस करता है कि यह वास्तव में एक ऐसा ऐतिहासिक संस्थान है जो छात्रों को अत्याधुनिक शिक्षा प्रदान करने में सहायक रहा है। यह पुस्तक पाठक को कॉलेज कैंपस या छात्र जीवन की एक ऐसी भावनात्मक यात्रा पर ले जाएगी, जहां आप लेखक के साथ कुछ देर और ठहरे रहना चाहेंगे।

Read More...
Paperback
Paperback 215

Inclusive of all taxes

Delivery

Item is available at

Enter pincode for exact delivery dates

Also Available On

जे सुशील

जे सुशील बीबीसी में लंबे समय तक काम करने के बाद फ़िलहाल अमेरिका में रह कर शोधकार्य कर रहे हैं। हिन्दी और अंग्रेज़ी में अख़बार-पत्रिकाओं में लगतार लेखन के साथ ही उन्होंने वीएस नायपॉल की किताब ‘ए टर्न इन द साउथ’ और एस हुसैन ज़ैदी की किताब ‘माई नेम इज़ अबू सलेम’ का हिन्दी अनुवाद किया है। उनका डिजिटल हिन्दी उपन्यास ‘हाउस हसबैंड की डायरी’ चर्चित रहा है। लेखन के साथ-साथ वह अपनी पार्टनर के साथ कम्युनिटी और परफ़ॉर्मेंस आर्ट भी करते हैं।

Read More...

Achievements

+4 more
View All