Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

Paramakshara Sutram / परमाक्षरसूत्रम् ज्ञानवतीटीका - सूत्रविस्तारभाष्य

Author Name: Shri Bhagavatananda Guru | Format: Paperback | Genre : Religion & Spirituality | Other Details

परमाक्षरसूत्र निग्रह सम्प्रदाय का एक प्रमुख ग्रन्थ है जिसके रचयिता निग्रहाचार्य श्रीभागवतानंद गुरु हैं | इसमें कामाख्या देवी की कृपा के द्वारा प्राप्त दस परमाक्षर सूत्रों के ऊपर ज्ञानवतीटीका - सूत्रविस्तारभाष्य, हिंदी अनुवाद के साथ सम्मिलित किया गया है | यह ग्रन्थ ब्रह्म और जीव के रहस्यों को ५५ दृष्टिकोणों से परिभाषित करता है | इस संस्करण के सम्पादक आचार्य अरुण कुमार पाण्डेय हैं |

Read More...
Paperback
Paperback 150

Inclusive of all taxes

Delivery by: 4th Oct - 7th Oct

Also Available On

श्रीभागवतानंद गुरु

श्रीमन्महामहिम विद्यामार्तण्ड श्रीभागवतानंद गुरु (श्रीनिग्रहाचार्य) भारत के वरिष्ठ धर्माधिकारी एवं लेखक हैं | बाल्यकाल से ही सनातन धर्म के ग्रन्थों एवं विषयों पर व्याख्यान तथा लेखन करना इनकी विशेषता रही है | इन्होंने हिन्दी, अंग्रेजी और संस्कृत में अनेकों पुस्तकों का लेखन किया है |  

Read More...