#National Writing Competition

Kaveri Nandan Chandra

Screenwriter, poet, author and a filmmaker.
Screenwriter, poet, author and a filmmaker.

सब कुछ और कुछ भी नहीं

Books by कावेरी नंदन चंद्रा

कावेरी नंदन चंद्रा बताती हैं कि, बोल चाल की भाषा में बात

करें तो, जहाँ हम (हम से मेरा मतलब 'मैं' से है) जीवन इकठ्ठा

कर रहें हैं, उस पात्र में एक सूक्ष्म छिद्र है, जिस में से इकठ्ठा

Read More... Buy Now

उधेड़बुन |

By Kaveri Nandan Chandra in Poetry | Reads: 108 | Likes: 2

करवट करवट रात कटी,  परत परत जब खबर खुली,   दबे पाँव आये दुश्मन की,  दस्तक से मन में हूँक उठी |   हर तरफ थे पसरे सन्  Read More...

Published on May 20,2020 02:18 AM

मन के दरवाजे |

By Kaveri Nandan Chandra in True Story | Reads: 103 | Likes: 1

कल मेरी फ्रेंड ने मुझे याद दिलाया की यह तीसरा लॉक डाउन है, करीबन २ पूरे माह गुज़र चुके हैं | यकीं मानिये पहले लॉक डाउन   Read More...

Published on May 16,2020 01:11 AM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/