Join India's Largest Community of Writers & Readers

sarvesh kumar

Read More...

निशा का अंतिम प्रहर

Books by प्राणेश कुमार

इस संग्रह के गीत उम्मीदें जगाते हैं- नयी आशा का संचार करते हैं। ये यथार्थपरक हैं। आज के राजनीतिक परिदृश्य को इन गीतों में खूबसूरती से छंदबद्ध किया गया है। विकास के शोर की असलियत

Read More... Buy Now

जुस्तजू रोशनी की

Books by प्राणेश कुमार

संग्रह की ग़ज़लें संघर्ष को प्रेरित करती हैं। व्यवस्था की काली दुनिया के खिलाफ रोशनी की जंग की वकालत करती हैं।  जन की पीड़ा को व्यक्त करने का प्रयास करती हैं - सत्ता के तानाशाह

Read More... Buy Now

ढाई आखर

Books by प्राणेश कुमार

संग्रह की कविताओं में प्रेम की कोमलता , प्रकृति की व्यापकता , मनुष्य का संघर्ष और उसके माध्यम से रोशनी की कामना है । जीवन से भरी -भरी इन कविताओं में प्रेम अपने विराट स्वरूप में उपस

Read More... Buy Now

तुमसे मुख़ातिब

Books by प्राणेश कुमार

इस संग्रह की कविताएं पाठकों से मुखातिब होकर संवाद करती हैं । मनुष्य और मनुष्य की जिजीविषा की बात करती हैं ।समाज-व्यवस्था को बदलने को तत्पर कविताएं सार्थक समाज की परिकल्पना के ल

Read More... Buy Now

खोया हुआ आदमी

Books by प्राणेश कुमार

खोया हुआ आदमी एक लघुकथा संग्रह है जो मौजूदा समाज में व्याप्त राजनीतिक कुटिलता, विसंगतियां , आर्थिक असमानता, बेरोजगारी और उनसे लगातार संघर्ष करते मनुष्य की कथा कहती हैं- मानव जीवन

Read More... Buy Now

हँसता है सूत्रधार

Books by प्राणेश कुमार

हँसता है सूत्रधार एक कविता संग्रह है जो हमारे आज के आस पास के परिस्थितियों एवं सामाजिक ढांचों के बिल्कुल अनुरूप है। यह सीधे पाठक के साथ सरल भाषा में संवाद स्थापित करने के साथ साथ

Read More... Buy Now

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/