Join India's Largest Community of Writers & Readers

Dr. RAJESH KUMAR MEENA

HISTORY
HISTORY

नाम- डा. राजेश कुमार मीणा पिता का नाम - रामप्रसाद मीणा    जन्म दिनांक - 13.05.1984. जन्म स्थान - महिदपुर रोड़ पढ़ाई - पी.एचडी (परमार कालीन शासकों के लोकहित कार्य एक ऐतिहासिक अध्ययन)      - एम.सी.पी.  डिपार्टमेन्ट नाम - प्राचीन भारतीय इतिहास संस्कृति Read More...

शैव वास्तुकला

Books by डाॅ.राजेश कुमार मीणा

भूमिका

       वास्तुकला हड़़प्पा सभ्यता के युग से लेकर तेरहवी सदी तक भारत में धार्मिक और लौकिक स्थापत्य के बहुसंख्यक रूप निर्मित हुए। इसके साथ ही सम्पूर्ण भारत असंख्य स्

Read More... Buy Now

शैव प्रतिमा विज्ञान

Books by डाॅ.राजेष कुमार मीणा

शैव धर्म के साथ-साथ शैव कला का भारत में क्रमशः विकास होता रहा है, जिससे भारत में धार्मिक सहिष्णुता एवं सद्भाव का परिचय संस्कति के रूप में आज भी दिखाई पड़ता है। शैव कला से संबंधित दे

Read More... Buy Now

परमार कालीन मूर्तिकला

Books by डाॅ.राजेश कुमार मीणा

भूमिका &पर्वतराज हिमालय से भी प्राचीन पर्वत शिरोमणि विंध्य की मेखला-कार्ट प्रदेश के पठार में बने-बसे भू-प्रदेश में वैदिक मल्व (अर्थवेद) और उसके पश्चात् मालव के नाम से विख्यात म

Read More... Buy Now

परमार कालीन स्थापत्यकला

Books by डाॅ.राजेश कुमार मीणा

परमार स्थापत्यकला

मालवा के इतिहास में परमार राजवंशों ने नवीं शताब्दी ई. से तेरहवीं शताब्दी ई. के प्रारंभ तक शासन किया। इनका मालवा के इतिहास में विशिष्ट स्थान है। अपने पाँच शत

Read More... Buy Now

परमार वंश एवं मालवा परिदृश्य

Books by डा.राजेश कुमार मीणा

मालवा क्षेत्र में परमारों ने लगभग 500 वर्ष तथा आस-पास के प्रदेशों पर शासन किया। परमार साम्राज्य की भौगोलिक पृष्ठभूमि उनके अभिलेखों से भी स्पष्ट होती है। 

आज जिस क्षेत्र को मा

Read More... Buy Now

परमार कालीन राजनीतिक एवं आर्थिक इतिहास

Books by डा.राजेश कुमार मीणा

भूमिका - लगभग पाँच शताब्दियों के राजनीतिक इतिहास में परमारों का साम्राज्य मालवा के पूर्व में भोपाल क्षेत्र के विदिशा व उदयपुर, पश्चिम क्षेत्र में हरसोल, मोडासा, महुड़ी तक दक्षिण

Read More... Buy Now

परमार - सामाजिक एवं धार्मिक इतिहास

Books by डा.राजेश कुमार मीणा

भूमिका- परमार शासकों ने अनेक प्रकार के लोकहित कार्य किये हैं। इनमें नगर निर्माण, दुर्ग एवं सुरक्षा, प्राचीरों का निर्माण, जनसामान्य हेतु-सरोवरों का निमार्ण, बांधों का निमार्ण त

Read More... Buy Now

मालवा में शैव धर्म

Books by डॉ. राजेश कुमार मीणा

मालवा से प्राप्त शैव कला से संबंधित देव मूर्तियों एवं शिव लिंगों से स्पष्ट होता है कि इस क्षेत्र के शिल्पियों को प्रतिमा लक्षण संबंधी शास्त्रों का बहुत ज्ञान था। वे प्रतिमा निर

Read More... Buy Now

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/