कविताएं

बात थी वो किसी इतवार  कि  दिखी थी जब मुझे पहली बार थी  पहली पौड़  ज्यादा पढ़ें...
336 0 कुल पसंद किया गया
गली थी मेरे यार की
By Tanvi Nishchan in Poetry
Maybe you were my cigarette Each day 10s 20s puff of relief.  That ring of love, that smoke of lust, You were my joint and my pressure point.  No mornings would s  ज्यादा पढ़ें...
336 0 कुल पसंद किया गया
CIGARETTE
By Anjali Jha in Poetry
क्या  बैध्य और क्या हकीम सभी कर चुके मेरा इलाज मैं रोगी था इश्क़  ज्यादा पढ़ें...
336 1 कुल पसंद किया गया
रोगी इश्क़ का
By jameel jadugar in Poetry
Again the same topic Is tickling my wonder-lusty mind, Persuading as if to give It words, for flight High over the cliffsides, And lows under the streets, And all th  ज्यादा पढ़ें...
335 1 कुल पसंद किया गया
Crystal of my shrine
तेरे चेहरे से नज़रें हटायें भी कैसे कमबख़्त दिल को समझायें भी क  ज्यादा पढ़ें...
334 0 कुल पसंद किया गया
तेरे चेहरे से नज़रें हटायें भी कैसे
Here, I lay under the sheets Mumbling, groaning Can somebody hear me? May be not!  may be my longings are exhausted,  too exhausted to be kissed With the warmth an  ज्यादा पढ़ें...
334 5 कुल पसंद किया गया
Under the Sheets
बोल अगर तू कहे तो  बंद कर दूँ ये सिलसिसला -ए- मुहोब्बत  क्या फरक प  ज्यादा पढ़ें...
334 0 कुल पसंद किया गया
सफर -ए- तन्हाई ...
In this glass board of you and me,  A new enticement will follow,  Sober and sweet, the sensation recalls The brith of an infant tomorrow.  I, with the numbness i  ज्यादा पढ़ें...
334 1 कुल पसंद किया गया
Love in a Glasgow-boat
हम मानते हैं ना की पत्थर में भी भगवान होते हैं , उसी प्रकार एक इन  ज्यादा पढ़ें...
333 0 कुल पसंद किया गया
इंसान
By Jawla Behal in Poetry
सूनी आंखों का सपना हर लम्हा लम्हा सुनसान लगता है, एक चिराग धिमी   ज्यादा पढ़ें...
333 2 कुल पसंद किया गया
निग़ाहों में श्मशान लगता ।
हूं इस आस में उसे खोजने की हूं इस आस में उसे खोजने की हर दिन उसके   ज्यादा पढ़ें...
333 3 कुल पसंद किया गया
जान से प्यारा
By Lorain in Poetry
Hamne dekha hai fakat tera ho kar... Tera ho kar bhi tujhse juda ho kar... Samajh li teri mohabbat bhi hamne.. Tere lehje pe tujhse khafa ho kar... Teri qaid me bh  ज्यादा पढ़ें...
333 4 कुल पसंद किया गया
Tera ho kar
By Sayyed tayyaba in Poetry
why do you love me? because you helped me  rise in love, with love.             ~ bani k  ज्यादा पढ़ें...
333 2 कुल पसंद किया गया
rise in love
By Bani K in Poetry
उस रास्ते पर हमेशा जिसे निहारते हुए जाता, आज वो ऑटो में मेरे साम  ज्यादा पढ़ें...
332 0 कुल पसंद किया गया
मेरा दोस्त का कॉल
तुमने पूछा था मुझसे मेरे इश्क के बारे में और मैने जबाब दिया कि त  ज्यादा पढ़ें...
332 1 कुल पसंद किया गया
मोहब्बत-ए-सलाह