Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

Maa / माँ Mere Jeevan Ki Prerna

Author Name: Nikhil Jain & Pooja Gautam | Format: Paperback | Genre : Poetry | Other Details

“माँ” एक ऐसा शब्द है जो हमारे हृदयतल से जुड़ा हुआ है, हमारे जीवन का आधार है और जिसे परिवार का स्तंभ माना गया है। इनके वात्सल्य से कोई भी अछूता नहीं। कहते है शिशु की पहली शिक्षक माता ही होती है। वही अच्छे - बुरे का फर्क बतलाकर जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा प्रदान करती है।

यह किताब माँ के बारे में केवल कुछ कविताओ का संकलन नही हैं अपितु माँ की महानता का प्रतीक और भावनों का एक अनोखा संग्रह हैं।

Read More...
Paperback
Paperback 175

Inclusive of all taxes

Delivery

Enter pincode for exact delivery dates

Also Available On

निखिल जैन & पूजा गौतम

निखिल जैन एक 26 वर्ष के नवयुवक है, जो की धुले, महाराष्ट्र से संबंध रखते है। गत एक वर्ष पूर्व ही ये अपने पारिवारिक व्यवसाय की ओर अग्रसर हुए है। ये 70 से अधिक किताबों का हिस्सा रह चुके है और इनका खुद का एक संकलन "L'amour" और "बंधन रिश्तों के" प्रकाशित भी हो चुके है। ये अपनी शायरी और कविताओ में सरल भाषा का प्रयोग करते है जिससे प्रत्येक व्यक्ति उन्हें आसानी से समझ सके।

इन्होने लॉकडाउन के समय से लिखना प्रारंभ किया और अब तक ये अनेकों प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेकर विजेता भी रह चुके है। आप इनकी लेखनी इंस्टाग्राम पर पढ़ सकते है :  @love.vibes143

ईमेल - love.vibes143@outlook.com

पूजा गौतम यह दिल्ली की रहने वाली हैं। इन्होंने इतिहास में स्नातकोत्तर और बी.एड किया है। यह औरतों की जागरूकता के विषय में लिखना ज़्यादा पसंद करती हैं या यूं कहिए ज्वलंत मुद्दों को उठाकर अपनी लेखनी द्वारा प्रश्नवाचक चिन्ह लगा देती हैं कि अन्याय और अत्याचारों का समाधान आखिर हैं कहां? इनको कविताएं, शायरी, ग़ज़ल, निबंध और लेख लिखने का शौक है और इन्होंने इसी क्षेत्र में कई प्रशस्ति पत्र भी हासिल किए हैं। लिखना इनकी रुचि में निहित है। शब्दों द्वारा भावों का लिखित रूप में प्रदर्शन कर इन्हें अत्यधिक पसंद है। लेखन के क्षेत्र में यह चरमोत्कर्ष पर पहुंचना चाहती हैं।।

इंस्टाग्राम - @seapearl700 

Read More...