Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

YOGA YA KHELKUD: MAHILAO PE ASARDAR KON / योगा या खेलकुद: महिलाओ पर असरदार कौन?

Author Name: Dr Meena Narayanrao Balpande | Format: Paperback | Genre : Educational & Professional | Other Details

योगा या खेलकुद महिलाओं पर असरदार कौन? इस पुस्तक में योगा एवं खेलकुद के द्वारा महिलाओ कों स्वस्थ रखने की विधियों को बताया गया है । “एक स्वस्थ शरीर में ही एक स्वस्थ मन रहता है”, जिसका अर्थ है कि, जीवन में आगे बढ़ने और जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए स्वस्थ शरीर में एक स्वस्थ मन होना चाहिए। जिसके लिए हमें अपने जीवन में योगा और खेलों को अपनाना होगा। इस पुस्तक में लेखिका ने यह बताने की कोशिश की है की योगा और खेलकुद स्वास्थ्य के लिए कितनी जरुरी है और इससे हमारे शारीरिक विकास,मन-मस्तिस्क की शांति और सुन्दरता पे क्या प्रभाव पड़ता है। योगा एवं खेलकुद दोनों ही शरीर को स्वस्थ रखने में काफी मददगार साबित हुए हैं परंतु महिलाओं पर सबसे ज्यादा असरदार कौन है ? योगा करना या फिर खेलकुद । इसी गुण एवं रहस्य को जानने के लिए लेखिका ने गहन अध्ययन करके जो परिणाम निकल कर सामने आए हैं उसे इस पुस्तक में लिखी है।

Read More...
Paperback
Paperback 200

Inclusive of all taxes

Delivery

Enter pincode for exact delivery dates

Also Available On

डॉ मीना नारायणराव बालपांडे

मीना नारायणराव बालपांडे (19/09/1971), शारीरिक शिक्षा विभाग दयानंद आर्य कन्या महाविद्यालय जरीपटका नागपुर में विभागाध्यक्ष एवं योग शिक्षिका है। इन्होंने बी.ए , एम.ए  (मराठी), अतिरिक्त बी.ए  (इतिहास) नागपुर विद्यापीठ, नागपुर से की है।

मीना नारायणराव बालपांडे (19/09/1971), शारीरिक शिक्षा विभाग दयानंद आर्य कन्या महाविद्यालय जरीपटका नागपुर में विभागाध्यक्ष एवं योग शिक्षिका है। इन्होंने बी.ए , एम.ए  (मराठी), अतिरिक्त बी.ए  (इतिहास) नागपुर विद्यापीठ, नागपुर से की है।

मीना नारायणराव बालपांडे (19/09/1971), शारीरिक शिक्षा विभाग दयानंद आर्य कन्या महाविद्यालय जरीपटका नागपुर में विभागाध्यक्ष एवं योग शिक्षिका है। इन्होंने बी.ए , एम.ए  (मराठी), अतिरिक्त बी.ए  (इतिहास) नागपुर विद्यापीठ, नागपुर से की है।

Read More...