Hindi

ख्याल
By Sanskriti garg in Poetry | Reads: 204 | Likes: 5
आज वो बात सुन ही ली , जो बहुत समय से महसूस हो रही थी, जो एक डर, जो एक हिचक अंदर कही ना कही दफन हो गई थी यह सोचकर के अब कुछ ह  Read More...
Published on Jun 13,2020 05:01 PM
मक़सद
By muskan in General Literary | Reads: 90 | Likes: 0
बरसात खिड़की के बाहर थी या आंखों में, इसका फर्क महसूस ना हुआ, खुशबू मिट्टी की थी या चिट्ठी की, जज़्बातों को यह भी एहसास   Read More...
Published on Jun 13,2020 08:56 PM
Ishq
By muskan in Romance | Reads: 116 | Likes: 0
तारों की आड़ में छुप के तेरे ख़्वाब बुन लिए मन ना लगा तो तेरे ख़्याली खत पढ़ लिए दिल को आहट थी कि तू वही  जिसको खुदा लिख म  Read More...
Published on Jun 13,2020 09:00 PM
Nadaniyaan
By muskan in General Literary | Reads: 129 | Likes: 0
नजाने कहाँ छुपके रह गए वो पल जिनमें थे हज़ारो msg और ढेर सारी कॉल हाँ लोग नहीं रहते साथ हमेशा सुना था मैंने पर हमारी नाद  Read More...
Published on Jun 13,2020 09:03 PM
दिल की बात
By muskan in General Literary | Reads: 105 | Likes: 0
दिल की धड़कन पे तेरा नाम लिख गया, साँसों के धागों से तेरा साथ बंध गया, यूँ तो इज़हार हुआ ना कभी हमसे पर, दुआओं की अर्ज़ी मे  Read More...
Published on Jun 13,2020 09:06 PM
Waqt
By muskan in General Literary | Reads: 103 | Likes: 0
वक़्त गुज़रता गया, रातें काली होती गयी, दिल की ज़ुबां से, मोहब्बत गाली होती गयी! किये थे कई वादे कुछ उनसे- कुछ खुद से मग  Read More...
Published on Jun 13,2020 09:09 PM
Gunehgaar sirf tum ho
By muskan in General Literary | Reads: 100 | Likes: 0
गर बरसा बरसात बनकर काजल आँखों से है, गुनहगार सिर्फ तुम हो। ये जो लगा लेते हो उम्मीद नये रिश्तों की बुनियाद पे, गुनहग  Read More...
Published on Jun 13,2020 09:11 PM
Difference between humans and prostitue
By Hemanttt in True Story | Reads: 96 | Likes: 1
         Prostitute Tawaif And Humans दिन भर औरत की इज्ज़त की बात करने वाले रात को जिस्मो की बोलियां लगाते है.....वैसे देखा जाए तो हम  Read More...
Published on Jun 13,2020 09:15 PM
Dil ko Apki Aadat hogyi
By Nishi Agrawal in Poetry | Reads: 164 | Likes: 1
Par ab.. kuch yun ho raha hai.. Jaise apko bhi mujhse pyaar ho raha hai.. batein shuru hogyi.. reasons kam hogyi.. time kam hogye.. lamhe jayada hogyi.. physical meeting kam hogyi.. yadein jayada hogye.. silwate kam hogye.. khilkhilahat jayada hogyi.. nakhre kam hogye.. pyaar jayada hogya... milne k  Read More...
Published on Jun 13,2020 09:26 PM
Poetry
By Amyra in Poetry | Reads: 87 | Likes: 0
Itni si zindagi.. par khwab bhot hai, Jurm ka to pta nahi Par ilzam bhot hai..!!  Read More...
Published on Jun 13,2020 10:19 PM
ए-दोस्त
By muskan in General Literary | Reads: 94 | Likes: 0
दुआएं करते हैं महज़ इतनी सी रब से हो ना कभी खफ़ा ये मुस्कान तेरे लब से है तू सबसे जुदा इस जहां में, ऐ- दोस्त झुकता है चाँद  Read More...
Published on Jun 13,2020 10:40 PM
Broken heart
By muskan in Poetry | Reads: 122 | Likes: 1
ये दिल प्यार का मोहताज होता है, इससे खेलने की गुस्ताखी ना करना ऐ-दोस्त। टूट गया एक दफ़ा तो जुड़ ना पायेगा, नफ़रत का तूफ़ा  Read More...
Published on Jun 13,2020 10:43 PM
कैसे बताऊ
By shaik mohammed mugnee in Poetry | Reads: 99 | Likes: 0
कैसे बताऊ के तुम मुझे क्या हो  कहु के तुम मेरी चलती साँसों की वजा हो या फिर मैं खुशी से काटू ऐसी सजा हो  हर बार दिल   Read More...
Published on Jun 14,2020 01:05 AM
The soul of Indian soldier
By Nilesh in Poetry | Reads: 134 | Likes: 0
एक दिन एक लदाई मे एक जवान शहीद हुवा तब उसकी आत्मा मिली भारत मा से तब भारत माता ने ऊस से कहा की मेरे रक्षा के खतिर तुमन  Read More...
Published on Jun 14,2020 07:51 AM
Phir se muskurayenge India
By Arohi kumari in Poetry | Reads: 137 | Likes: 2
कल जब lockdown  खत्म हो जायेगा हमारा भारत फिर से मुस्कुराएगा। भले ही सबकुछ पहले जैसा नही हो पायेगा पर पहले से बेहतर एक   Read More...
Published on Jun 14,2020 09:09 AM