10 Years of Celebrating Indie Authors

KALAKSHI KESHAV SHARMA

ARTIST AND WRITER
ARTIST AND WRITER

कलाक्षी केशव शर्मा हाल ही में स्नातक शिक्षा पूरी की है और एक स्नातकोत्तर विद्यार्थी है. कक्षा सातवीं में उन्होंने अपनी पहली कहानी लिखी थी. उन्हें लिखने की प्रेरणा अपनी कवयित्री माँ अरुणा शर्मा और अपने पिता कैलाश कुमार शर्मा से मRead More...


Achievements

SAPKSH

Books by Kalakshi Keshav Sharma

Keshav, a flying creature, lives in a haunted ruin. In the eyes of everyone, he is a demon or a wandering soul, but in reality he is of a calm nature and he is very much in love with flowers. One day he meets Vrinda who is allergic to flowers . Both fall in love with each other in spite of adversity. will they live together...

Read More... Buy Now

सपक्ष

Books by कलाक्षी केशव शर्मा

एक इंसानी तितली केशव एक भूतिया खँडहर में रहता है. सभी की नज़रों में वो कोई राक्षस या भटकती आत्मा है मगर असलियत में वो शांत स्वभाव का है और उसे फूलों से बेहद प्यार है. एक दिन उसकी मुला

Read More... Buy Now

रात्रि…

Books by कलाक्षी केशव शर्मा

उर्मी और लोकेश काम के चलते एक दूसरे को समय नहीं दे पाते थे. दोनों की हाल ही में शादी हुई थी इसलिए परिवार वालों ने दोनों के लिए ट्रैकिंग का प्लान बनाया और नई गाड़ी दे कर भेज दिया. शह

Read More... Buy Now

अप्रत्यक्ष

Books by कलाक्षी केशव शर्मा

ये कहानी है अक्षरा नाम की एक लड़की की जो एक फिल्म के लिए हद से ज्यादा दीवानी हो चुकी है. उसे अपने आसपास के लोगों से ज्यादा उस फिल्म से मतलब है. इसका नतीजा ये होता है एक दिन वो अपने आप

Read More... Buy Now

इंडियन ब्राइड

Books by कलाक्षी केशव शर्मा

एक देहाती भारतीय परिवेश में पली बढ़ी लड़की संस्कृति को उसके पिता के दोस्त विदेश में रहकर उनके आधुनिक और आज़ाद सोच वाले बटे व्यास के लिए पसंद कर लेते हैं। घर वालों के दबाव में व

Read More... Buy Now

पराग्रही

Books by कलाक्षी केशव शर्मा

पराग्रही एक विज्ञानं आधारित फंतासी कथा है. हरिणाक्षी ने जब अद्वैत से शादी की तो बहुत खुश थी क्योंकि वो उसे बहुत प्यार करता है. अद्वैत की माता-पिता न होने के कारण हरिणाक्षी के घर

Read More... Buy Now

जॉब ऑफर

By KALAKSHI KESHAV SHARMA in Crime Thriller | Reads: 6,409 | Likes: 68

जागृति एक जैसे दिखने वाली इमारत के सामने खड़ी थी. उसमें कुल सात या आठ मंजिल होंगी. पास में पार्किंग में उसने अपनी स्क  Read More...

Published on Jun 23,2022 11:12 PM

चमकीली रेत

By KALAKSHI KESHAV SHARMA in Horror | Reads: 776 | Likes: 3

प्रोफेसर अपने परिवार के साथ में शहर आया यहां उसने महिमा विश्वविद्यालय ज्वाइन की थी क्योंकि उसे विशेष अनुग्रह पर ब  Read More...

Published on Jun 23,2022 11:35 PM

Edit Your Profile

Maximum file size: 5 MB.
Supported File format: .jpg, .jpeg, .png.
https://notionpress.com/author/