True Story

एक थी नंदनी
By jj886193 in True Story | পড়ার জন্য : 1,408 | পছন্দ: 272
एक थी नंदनी हिरनी जैसी आँखों वाली ख़ुश मिज़ाज़ सी लड़की, सबकी प्यारी पर उसकी ख़ुशियों को जैसे किसी की नज़र लग गयी उस  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 11,2022 06:50 PM
Two Faces Of Freedom
By Kartik diwedi in True Story | পড়ার জন্য : 315 | পছন্দ: 1
TWO FACES OF FREEDOM What is freedom? According to 99 percent of population, freedom is being free to make decisions and choices for self, being in charge of own life and controlling way of life and living it without any external force but what I think is entirely different than it means I am not   বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 11,2022 07:15 PM
घर-जमाई
By Chaman Maheshwari in True Story | পড়ার জন্য : 748 | পছন্দ: 1
      "अरे राघव क्या हुआ तुम्हारी सगाई का ?” स्वाती ने अपने क्लासमेट राघव से पूछा। आज सारे दोस्त फ्री लेक्चर में   বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 12,2022 01:31 AM
आपातकालीन सीट
By manjumanisha914 in True Story | পড়ার জন্য : 456 | পছন্দ: 1
***** आपातकालीन सीट ****     मेरी मुलाकात तुमसे रेलगाड़ी के सफ़र दौरान हुई l मेरी रीज़र्वड सीट पर तुम बैठी थी l मैंने तुम  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 12,2022 06:18 AM
दोपहर का एक दिन
By MUKESH KUMAR SONI in True Story | পড়ার জন্য : 1,856 | পছন্দ: 117
मैं,मेरी मां,मेरी छोटी बहन और मेरे बड़े भाई दोपहर के भोजन के उपरांत गांव के एक छोटे से मिट्टी की कमरे में आराम कर रहे   বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 12,2022 08:58 AM
Hindi Story - Kismat
By Shradha Pandey in True Story | পড়ার জন্য : 1,895 | পছন্দ: 28
                                      किस्मतनीलम! जल्दी से सारा सामान बटोर लो। कल घर चलना है। पर काहे क  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 12,2022 05:22 PM
बीस साल में दस दिन भारी
By ???? "?????" ( ???? ?????? ????? ) in True Story | পড়ার জন্য : 2,256 | পছন্দ: 4
कहानी।     "बीस साल में दस दिन भारी"                             रचनाकार : सतीश "बब्बा"       शादिय  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 13,2022 10:16 AM
कनिया (नई दुल्हन) का प्रायश्चित!!
By Archana Pandey in True Story | পড়ার জন্য : 884 | পছন্দ: 11
"वो बला की खूबसूरत थी! " "कौन? किसकी बात कर रही हो जिज्जी! " "वो जो सामने छत पर खड़ी है ना.. अनामिका!"  मुग्धा ने गम्भीर मु  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 13,2022 08:33 AM
वो अखबार वाला लड़का
By PANKAJ PALAKSH in True Story | পড়ার জন্য : 1,384 | পছন্দ: 9
    वो अख़बार वाला लड़का --------------------- =-------------- सुबह छः बजे का समय कमलेश्वर बाबू के दरवाजे पर एक दस्तक      "साहेब वो सा  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 13,2022 10:56 AM
छोटू
By Neeraj in True Story | পড়ার জন্য : 751 | পছন্দ: 10
"साढ़े तीन बजते ही नींद खुल गयी ,  उसने झटपट बिस्तर को समेटा और हाथ-पैर धुले । फिर अपने काम में लग गया और काम इतने की ३  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 13,2022 07:44 PM
संस्कारी
By sakshamgarg2574 in True Story | পড়ার জন্য : 2,593 | পছন্দ: 407
काफी देर से प्रकाश खिड़की मे बैठा उस सात आठ साल केे बच्चे को देख रहा था।वह रंग बिरंगी गोलियों के साथ खेल रहा था।कभी   বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 14,2022 03:59 PM
चोरी (सही या गलत)
By Astha Nigam in True Story | পড়ার জন্য : 605 | পছন্দ: 3
चोरी (सही और गलत) एक लड़का महज ११-१२ साल का, बाल उलझे हुए, गोल सकल लेकिन धूप और धूल के कारण काली पड़ चुकी, हरे रंग की T-shirt औ  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 13,2022 10:15 PM
त्याग और सुकून
By deepak945183 in True Story | পড়ার জন্য : 450 | পছন্দ: 0
मैं संगम पर गंगा किनारे आहाना के इंतजार में रेत पर बैठा था। दिन ढलने वाला था, सूरज अपने क्षितिज पर पहुँच चुका था ; सूर  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 14,2022 01:29 AM
त्याग और सुकून
By deepak945183 in True Story | পড়ার জন্য : 498 | পছন্দ: 1
रवि बम्बई शहर में रहता है उसका बेकरी का बिजनेस है वह खुद ही दुकानों दुकानों पर जा कर अपने समानो को बेचता है। रवि की प  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 14,2022 01:35 AM
"मजबूर माँ"
By vibhav.commerce in True Story | পড়ার জন্য : 685 | পছন্দ: 0
बारिश..एक ऐसा मौसम जिससे शायद सभी को प्यार होता है। गर्मी  से लगातार तपती धरती और परेशान होते प्राणी बारिश के आते ह  বেশি পড়ুন...
প্রকাশিত হয়েছে Jun 14,2022 05:28 PM