Share this product with friends

Mere Aarzoo / मेरी आरज़ू

Author Name: RAJEEV KUMAR | Format: Paperback | Genre : Literature & Fiction | Other Details

मेरी आरज़ू १३ छोटी -छोटी कहानीओं का संग्रह है जो ज़िंदगी के भिन्न- भिन्न परिस्थितियों में इंसान के मनोदशा को दर्शाता है। कहानी का पात्र अपने ज़िंदगी के विभिन्न मुकाम पे किसी से प्यार करता है और समय के साथ अलग अलग परिस्थितियों में उलझ कर रह जाता है कहानी का पात्र करना कुछ और चाहता है लेकिन समय उसे किसी और मुकाम पर पहुँचा देता है। इस कहानी में पात्र एक मध्यम वर्गीय परिवार से है ज़िंदगी में कहीं उसे सफलता मिलती है तो कहीं असफलता। कहीं वो रिश्तों को पहचान नहीं पाता है तो, कहीं सब कुछ जान कर रिश्तों के बंधनों में फँस जाता है ,जहाँ उसे शतरंज के खेल की तरह इंसान की भावनाओं का इस्तेमाल करना पड़ता है और फिर वो खुद हीं अपने जाल में फँस जाता है। ज़िंदगी के इस खेल में किस तरह वो अपनी भावनाओं को संभाल कर हालातों से मुकाबला करता है इसी की कहानी है मेरी आरज़ू

Read More...

Sorry we are currently not available in your region.

Also Available On

Sorry we are currently not available in your region.

Also Available On

राजीव कुमार

एक छोटे से गांव पीतम्बरपुर में लालटेन युग में पैदा हुआ प्रारंभिक पढ़ाई गांव के सरकारी स्कूल में पूरी करने के बाद बैंगलोर से मैनेजमेंट कि पढ़ाई पूरी की और अब १५ साल से मल्टीनेशनल कंपनी में काम कर रहा हूँ मैं कहानियाँ तब से लिख रहा हूँ जब मैं सातवीं क्लॉस में पढ़ता था शुरुआत में मैं अपनी कहानियाँ सब से छुप - छुप कर अपनी डायरी में लिखा करता था , मेरी आरज़ू की कुछ कहानियाँ मैंने उस वक़्त हीं लिखी है  मैं पिछले १५ वर्षों से इन्हें प्रकाशित करना चाहता था मगर ये हो ना सका। मेरी आरज़ू मेरी पहली रचना है मेरी दूसरी रचना तृष्णा है जिसे मैं अभी लिख रहा हूँ 

Email: 12rajeev@gmail.com

Facebook: 12rajeev@gmail.com

Instagram: 12rajeev

Twitter: @12rajeevkumar

 

Read More...