#writeyourheartout

Share this product with friends

Patita / पतिता देह व्यापार की हकीकत

Author Name: Anil Anup | Format: Paperback | Genre : Literature & Fiction | Other Details

जेलखाना हो या महिला छात्रावास ,कॉलेज होस्टल हो या होटल ,रेलवे स्टेशन हो या बस अड्डा ,सड़क किनारे स्थित ढाबा ,लाइन होटल हो या फिर बालिका गृह ,महिला आवास गृह सभी जगहों पर देह व्यापार ने अपनी जड़ें जमा ली हैं ।बहुत जगहों पर तो सेक्स वर्करों को लाइसेंस तक होता है लेकिन इन लाइसेंसी सेक्स वर्करों से कई गुना ज्यादा गैर लाइसेंसी और हाई फाई सेक्स वर्कर हैं ।
लेखक ने अपनी पुस्तक "पतिता" के माध्यम से जिन समस्याओं को उभारा है,उस पर सरकार और समाज को गंभीरता से विचार करना चाहिए ।व्यापक सुधार के प्रयास होना चाहिए अन्यथा इस देश की संस्कृति नष्ट होने के कगार पर पहुंच जाएगी ।

Read More...

Sorry we are currently not available in your region.

Sorry we are currently not available in your region.

अनिल अनूप

लेखक के संदर्भ में
जन्म 2/10/1967
शिक्षा एम ए हिंदी
व्यवसाय पत्रकारिता एवम लेखन। 
विगत तीस वर्षों से सामाजिक, राजनीतिक एवम समसामयिक विषयों पर नियमित लेखन। देश के प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में नियमित लेखन।
वर्तमान में अपना वेब पोर्टल संचालन के साथ दिल्ली प्रेस, प्रवक्ता एवम अन्य प्रकाशन संस्थाओं के लिए लेखन।
प्रस्तुत पुस्तक लेखक के निजी शोध पर आधारित है।‌ वेश्यावृत्ति और वेश्याओं के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा।

Read More...