Hindi

बेटी
By Chandni Sethi Kochar in True Story | Reads: 99 | Likes: 0
एक शहर में एक लड़की रहती थी जिसका नाम जहाना था , वह दिखने में बहुत ही सुंदर थी कद लम्बा , बाल रस्सी की तरह एक दम सीधे ! वह   Read More...
Published on May 20,2020 01:33 AM
उधेड़बुन |
By Kaveri Nandan Chandra in Poetry | Reads: 108 | Likes: 2
करवट करवट रात कटी,  परत परत जब खबर खुली,   दबे पाँव आये दुश्मन की,  दस्तक से मन में हूँक उठी |   हर तरफ थे पसरे सन्  Read More...
Published on May 20,2020 02:18 AM
चलो चले कहीं...
By pragati singhania in Poetry | Reads: 119 | Likes: 0
चलो चले कहीं इस थकान भरी ज़िन्दगी से परे ! चलो बैठें ,बतियाएं, जियें दो पल सुकून के शांति से ! देखें उस हरी घास पर सर रख   Read More...
Published on May 20,2020 08:06 AM
तू भी जी ले...
By Deshna Shah in Poetry | Reads: 96 | Likes: 0
आज वक़्त कुछ ठहर सा गया है, तो इस ठहरे वक़्त के लम्हे को तू जी ले। रास्ते और गलियों के सन्नाटे मे, मन की आवाज़ सुनकर कु  Read More...
Published on May 20,2020 09:02 AM
देखा है मैंने लोगों को बदलते..!
By Rahul Kiran in Poetry | Reads: 96 | Likes: 1
                       देखा है? मैने देखा है लोगों को करीब से बदलते देखा है...!  जो लोग बातों - बातों में ही अ  Read More...
Published on May 20,2020 09:20 AM
एक पागल प्रेमी की कहानी
By Nishant Jain in True Story | Reads: 568 | Likes: 0
चलो आज एक पाग़ल की कहानी सुनाता हूं.... एक लड़का था जो इक लड़की से बेइंतहा मोहब्बत करता था, उसने जब उसको पहली बार देखा था त  Read More...
Published on May 20,2020 11:13 AM
ख्वाब की परवरिश
By Priyam in Poetry | Reads: 77 | Likes: 0
अपने ख्वाब की परवरिश करो उसे हर पल सच करने की कोशिश करो  निराश मत होना मंजिल की दूरी देखकर  निरंतर बढ़ते रहो हौसल  Read More...
Published on May 20,2020 01:11 PM
तू तय कर अपनी डगर
By swatI sourabh in Poetry | Reads: 82 | Likes: 0
तू तय कर अपनी डगर किसकी ख़ौफ़ से ठहरा है तू ,किस बात से  डरा है तू बढ़ा तू अपने क़दम,दिखा दे कि तुझमें है दम तू ना डर , तू बन  Read More...
Published on May 20,2020 01:13 PM
हमारी अधुरी कहानी
By vikas jain in True Story | Reads: 100 | Likes: 0
वो जो कभी थी मेरी जिन्दगी का बता दूँ ! चलो एक किस्सा आज उस मतलबी का बता दूँ ।   वो मिली कहीं किसी समरोह से मुझे! छुप कर   Read More...
Published on May 20,2020 03:51 PM
कोरोना या जंग
By preetibala in Poetry | Reads: 351 | Likes: 1
कुछ इस तरह है आज लोगों का रोना चारों तरफ हाहाकार मचा रहा कोरोना कोरोना ने शुरू की ऐसी बर्बादी खत्म होने को है दुनिया  Read More...
Published on May 20,2020 04:03 PM
Dar lagta hai aj bhi
By pooja gupta in True Story | Reads: 108 | Likes: 0
Hlo meri zindagi ki suruaat ya yh kahiye ki mera janam delhi m 3 november 2000 m hua. mai jb 8 year ki hui tb meri zindagi start hui. Us nanni ko apne papa se us time bhut pyar tha kyuki uske papa uski her wish puri krte the , or wo bachpan wali wish hi hoti thi bs khane se matlab or kisi chij se bi  Read More...
Published on May 20,2020 05:26 PM
Milna zaruri tha
By Kushali in Romance | Reads: 99 | Likes: 1
Vo ekdin tera class me ana yuhi nahi tha milna hamara Nhi socha tha dil ke haal batte batte dil me sama jaega tu,  Sath nibhaya to magar kabhi dil se apnaya na tu tujhe pa to liya tha maine par apna bana na saki dil me to basaliya par chahkar bhi lakiro me likhava na ski kash smjh pata tu mer  Read More...
Published on May 20,2020 05:46 PM
आखिर हूँ कौन मैं?
By Nidhi Pandey in Poetry | Reads: 120 | Likes: 0
आखिर हूँ कौन मैं? जो कल थीया वो जो आज हूँवो हूँ मैं? अपने ही घर में अपनों से दूर है जोया वो जो है ठहाके लगा रही दोपहर मे  Read More...
Published on May 20,2020 08:43 PM
maa ke mann ki baat
By Geetika K. Bakshi in Poetry | Reads: 110 | Likes: 0
अब मेरा घर गन्दा नहीं होता,अब काम तो काम सा नहीं लगता,एक आज़ादी की सनाटे के रूप में कब खिड़की से अंदर आ गयी,और मेरे कंधो   Read More...
Published on May 20,2020 11:41 PM
दो बूँद सुधा
By Ajahar Rahaman in Poetry | Reads: 103 | Likes: 1
काश! कोई दो बूँद सुधा देदे। गर नही दे सकते ,बूँद धरातल की ,पय की ; हे नाथ मुझे मृत्यू देदे। बस एक आखरी बार ही मांगता हूँ   Read More...
Published on May 21,2020 06:02 AM