Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

chamrasur aur doosri kahaniyan / चमरासुर और दूसरी कहानियाँ tisri duniyan ki jhalak

Author Name: Shamoil Ahmad | Format: Paperback | Genre : Literature & Fiction | Other Details

चमरासुर बदलते परिवेश की कहानी है जो इस तथ्य को दर्शाती है कि भारतीय लोकतंत्र में फासीवाद ने किस तरह अपने पंजे गाड़ दिए हैं | चमरासुर खुद को महिषासुर का वंशज समझता है और अंबेडकर के आंदोलन को पुनर्जीवित करना चाहता है लेकिन जातिवाद के दंश का शिकार हो जाता है |

झाग और कायाकल्प जैसी कहानियों से गुजरने का मतलब है स्त्री-पुरुष के सम्बन्धों के बीच उन निजी लम्हों से गुजरना है जहां पूर्ण समर्पण के बावजूद भी स्त्री अपनी आंतरिक सुरक्षा और स्वतंत्रता के लिए अपने तमाम अंतर्विरोधों और कुंठाओं  के साथ संघर्षरत दिखाई देती है |

लम्बा लेट सिर्फ पिता-पुत्र के सम्बन्धों की कहानी नहीं है बल्कि इस तथ्य को भी उजागर करती है कि अलौकिक प्रेम का प्रवाह दो पुरुषों के बीच भी हो सकता है |

नमलूस का गुनाह और चुनवा का हलाल मजहब में हस्तक्षेप है |

सिंगारदान उस त्रासदी को दर्शाता है जो किसी समुदाय को उसकी धरोहर से वंचित कर देने की त्रासदी है |

Read More...
Paperback
Paperback + Read Instantly 300

Inclusive of all taxes

Delivery by: 19th Mar - 22nd Mar
Beta

Read InstantlyDon't wait for your order to ship. Buy the print book and start reading the online version instantly.

Also Available On

शमोएल अहमद

शमोएल अहमद 

जन्म ; 4 मई 1943 

जन्म स्थान ; भागलपुर , बिहार 

कुछ प्रमुख कृतियाँ ; सिंगारदान, नदी, महामारी , चमरासुर , ऐ दिले आवारा , गिर्दाब , 21 श्रेष्ठ कहानियाँ 

प्राप्त सम्मान ; मजलिस फरोग़ उर्दू दोहा-क़तर  के अंतर्राष्ट्रीय पुरुस्कार से सम्मानित । उत्तर प्रदेश उर्दू अकाडमी एवं बिहार उर्दू अकाडमी के पुरुस्कार |

जीवन परिचय ;           हिन्दी एवं उर्दू में समान अधिकार से लेखन | बोल्ड, साहसिक , सेक्स एवं मनोविज्ञान केंद्रित विषयों के लिए सूप्रसिद्ध , कहानियों में इतिहास, दर्शन, यथार्थ और व्यंग का अजीब मिश्रण | कहानियाँ अनेक भारतीय भाषाओं में अनूदित , अंग्रेजी में उपन्यास ‘’ रीवर ‘’ और कहानी संग्रह ‘’ द ड्रेसिंग टेबुल ‘’ जस्ट फिक्शन जर्मनी द्वारा प्रकाशित।|

सिविल इंजीनियरिंग में स्नातक । बिहार सरकार के लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग में मुख अभियंता के पद से सेवा निवृत और अब स्वतंत्र लेखन |

Read More...