Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

Avatār - antim satya dishā / अवतार - अन्तिम सत्य दिशा

Author Name: Lava Kush Singh "vishwmanav" | Format: Paperback | Genre : Educational & Professional | Other Details

विषय- सूची

अवतार 
ईश्वर या काल चक्र
सार्वभौम सत्य-सिद्धान्त के अनुसार काल, युग बोध एवं अवतार
सुखसागर के अनुसार भगवान विष्णु चौबीस अवतार

भाग-1: पहलायुगः सत्ययुग

अ. व्यक्तिगत प्रमाणित पूर्ण प्रत्यक्ष अवतार
 01. प्रथम अवतार : मत्स्य अवतार
 02. द्वितीय अवतार : कूर्म / कच्छपावतार
 03. तृतीय अवतार : बाराह अवतार
 04. चतुर्थ अवतार : नृसिंह अवतार
 05. पाँचवाँ अवतार : वामन अवतार

ब. सार्वजनिक प्रमाणित अंश प्रत्यक्ष अवतार
 06. छठा अवतार : परशुराम अवतार

भाग-2: दूसरायुगः त्रेतायुग

स. सार्वजनिक प्रमाणित पूर्ण प्रत्यक्ष अवतार
 07. सातवाँ अवतार : श्रीराम अवतार-रामायण (मानक व्यक्ति चरित्र)

भाग-3: तीसरायुगः द्वापरयुग

द. व्यक्तिगत प्रमाणित पूर्ण प्रेरक अवतार
 08. आठवाँ अवतार : श्रीकृष्ण अवतार-महाभारत (मानक सामाजिक व्यक्ति चरित्र)

भाग-4: चौथायुगः कलियुग

य. सार्वजनिक प्रमाणित अंश प्रेरक अवतार 
 09. नौवाँ अवतार : बुद्ध अवतार 
भाग-5: पाँचवाँयुग: स्वर्णयुग/सत्ययुग

र. सार्वजनिक प्रमाणित पूर्ण प्रेरक अवतार 
         10. दसवाँ और अन्तिम कल्कि अवतार - विश्वभारत (मानक वैश्विक व्यक्ति चरित्र)

Read More...
Paperback

Also Available On

Paperback 350

Inclusive of all taxes

Delivery by: 1st Nov - 4th Nov

Also Available On

लव कुश सिंह “विश्वमानव”

कल्कि महाअवतार के रूप में स्वयं को प्रकट करते श्री लव कुश सिंह “विश्वमानव” द्वारा प्रकटीकृत ज्ञान-कर्मज्ञान न तो किसी के मार्गदर्शन से है और न ही शैक्षिक विषय के रूप में उनका विषय रहा है। न तो वे किसी पद पर कभी सेवारत रहे, न ही किसी राजनीतिक-धार्मिक संस्था के सदस्य रहे। एक नागरिक का अपने विश्व-राष्ट्र के प्रति कत्र्तव्य के वे सर्वोच्च उदाहरण हैं। साथ ही राष्ट्रीय बौद्धिक क्षमता के प्रतीक हैं।

Read More...