Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

Prabha Prabhakar Tarunai / प्रभा प्रभाकर तरुणाई

Author Name: Devendra Kumar Prabhakar | Format: Paperback | Genre : Poetry | Other Details

यह पुस्तक मेरी तरुण अवस्था में लिखी गयी कविताओं का संकलन है। कुछ कविताओं में समाज की उस अवस्था का वर्णन है जिससे एक बड़ा समाज पीड़ित रहा है। वहीं कुछ कविताओं का संबंध सामाजिक ताने बने को प्रदर्शित करता है।

दलित राजनीति के उभरते हुये अवसर पर उससे समाज पर पड़ने वाले प्रभाव का दर्शन भी होता है। वहीं इस बात पर ज़ोर दिया जाना चाहिए की राष्ट्र और राष्ट्रहित सर्वोपरि है।

हास्य रस से भरपूर कुछ कुंडलियों के माध्यम से व्यंग वाण चलाकर भी सामाजिक स्तिथियों का भी समावेश करने की कोशिश की गयी है।

इस पुस्तक की कविताओं में मेरे ही विचार हैं और इसे व्यंग की द्रष्टि से ही देखा’ जाय, किसी की भवनयों को आहित करना इसका उद्देश्य नहीं है।

अगर फिर भी किसी की भावनाओं को ठेस पहुँचती है तो मैं क्षमाँ प्रार्थी हूँ, आशा है पाठक गण उदारता दिखते हुये जहां कुछ कमियाँ हैं बताएँगे जिससे उसे सुधारा जा सके।

Read More...
Paperback
Paperback 150

Inclusive of all taxes

Delivery

Item is available at

Enter pincode for exact delivery dates

Also Available On

देवेन्द्र कुमार प्रभाकर

नाम: देवेन्द्र कुमार प्रभाकर

पिता का नाम: स्व॰ बसुदेव सिंह

जन्म तिथि : 7 अगस्त 1955

जन्म स्थान : जमालपुर माफी, अलीगढ़

शैक्षिक योगिता:

1.   डिप्लोमा इन सिविल इंजीनीयरिंग

2.   बैचलर आफ सिविल इंजीनीयरिंग

उच्च शिक्षा प्राप्त संस्थान: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवेर्सिटी

पत्नी का नाम: श्रीमती पूनम प्रभाकर

सामाजिक कार्य :

·     डा॰ अंबेडकर राष्ट्रीय एकता परिषद में प्रदेश अध्यक्ष का कार्य

·     सर्व समाज हितकारी महासभा में सभापति का दायित्व

·     अंबेडकर एकेडमी में सभापति का दायित्व

·     सिद्धार्थ सहकारी श्रम संविदा समिति अलीगढ़ में सभापति का दायित्व

·     सिद्धार्थ सहकारी आवास समिति लखनऊ में सभापति का दायित्व

·     उ॰प्र॰ श्रम एवं निर्माण सकरी संघ लखनऊ में निदेशक का दायित्व

प्रकाशन :

·     भीम वेदना हिन्दी साप्ताहिक लखनऊ के प्रधान संपादक

·     कृष्णअनुषंधान अथवा भगवान से साक्षात्कार का गद्य/ पद्य के रचनाकार

·     बुद्ध शरण की राह में का गद्य/ पद्य के रचनाकार

·     प्रभप्रभाकर तरुणाई का गद्य/ पद्य के रचनाकार

·     प्रभा प्रभाकर प्रेम रस मदिरा का गद्य/ पद्य के रचनाकार

·     प्रभा प्रभाकर जीवन तरंग का गद्य/ पद्य के रचनाकार

·     शोषित के भगवान का गद्य/ पद्य के रचनाकार

·     सामाजिक न्याय का प्रथम सोपान "आरक्षण" के रचनाकार

·     "कोरोनावाइरस और भारतीय समाज" के रचनाकार

·     "भारतीय समाज और जातिवाद" के रचनाकार

Read More...