Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

THE FINAL SOLUTION / द फाइनल सॉल्युशन THRILLER, MURDER-MYSTERY, SUSPENSE | थ्रीलर, मर्डर-मिस्ट्री, सस्पेंस

Author Name: SAURABH & KABIR | Format: Paperback | Genre : Literature & Fiction | Other Details

• इस उपन्यास में एक लेखक के आर्थिक और व्यक्तिगत संघर्षों को दिखलाया गया है।

• तेज दिमाग और फूटी किस्मत की अनोखी जुगलबंदी को इस उपन्यास में दर्शाया गया है ।

• इस बात का इल्म गिने-चुने लेखकों को हो पाता है कि वास्तव में उनका मस्तिष्क कितना परिपक्व वह असाधारण है।

• अगर कोई अच्छे समाज की नींव रखता है तो उसमें इतनी क्षमता होती है कि वह उसे पुनः ध्वस्त भी कर सकता है।

• इस उपन्यास में समाज के दोहरे नकाब को दिखाया गया है, जाति और धर्म के अंधभक्ति को दिखलाया गया है और एक ऐसा षड्यंत्र जो आने वाली पीढ़ी को पूरी तरह प्रभावित करता है।

Read More...
Paperback
Paperback 160

Inclusive of all taxes

Delivery

Enter pincode for exact delivery dates

Also Available On

सौरभ & कबीर

• सौरभ महेंद्र विश्वकर्मा :

उत्तर प्रदेश के एक छोटे से गांव ' करहां- मऊ ' में जन्मे सौरभ को बचपन से ही लेखन से गहरा लगाव रहा है।

इन्हें अपनी मातृभाषा हिंदी से अत्यंत प्रेम है, इसके साथ इन्हें हिंदी साहित्य और हिंदी साहित्यकारों में भी गहरी रुचि है।

'चिल्ड्रन कॉलेज' आजमगढ़ में 12वीं उत्तीर्ण करने के बाद इन्होंने आगे की पढ़ाई पूरी करने के लिए इलाहाबाद ( प्रयागराज ) की ओर रुख किया और वहीं से अपना स्नातक पूरा किया ।

अपने प्रथम उपन्यास ' संगम ' की सफलता के बाद यह दिल्ली चले गए और वर्तमान में वही से लेखन का कार्यभार संभालते हैं।

• Instagram - authorsaurabh33

•Facebook - Saurabh mahendra vishwakarma

• YouTube - AUTHOR SAURABH 33

• twitter - @authorsaurabh33

 

• गुलशन शर्मा :

गुलशन (कबीर) का जन्म उत्तर प्रदेश के एक छोटे से गांव में हुआ था। स्कूल के दिनों से ही इन्हें इतिहास से गहरा लगाव है, इसके साथ साथ इन्हें हिंदी से अनन्य प्रेम है।यह बचपन से ही कहानियां और कविताएं लिखने का शौक रखते हैं।

गांव से 12वीं उत्तीर्ण करने के बाद यह बनारस बी.एच.यू विश्वविद्यालय से इतिहास विषय से स्नातक और परास्नातक की उपाधि प्राप्त किए।आगे यू.पी.एस.सी की तैयारी के लिए यह दिल्ली चले गए और वर्तमान में वही रहते हैं।

Read More...