Hindi

अब और नहीं होती मोहब्ब्बत
By Mohammad Asad in Poetry | Reads: 77 | Likes: 0
अब और नहीं होती कोशिश किसी से दिल लगने की असद  के तकाज़ो ने नियत खराब करदी। शायर - मोहम्मद असद   Read More...
Published on May 15,2020 04:32 PM
पानी दूध
By Chandni Sethi Kochar in General Literary | Reads: 88 | Likes: 0
आज ऋषि ऑफ़िस के लिए उठते हुए क़रीबन एक घंटा लेट हो गया । क्योंकि रात से ही वे अपने बीमार पिता जी की सेवा में लगा हुआ थ  Read More...
Published on May 15,2020 04:44 PM
कोरोना का कहर
By Vani Dhamani in Poetry | Reads: 250 | Likes: 8
                           करोना का कहर  वाह! रे कोरोना तूने कैसा कहर है बरसाया  जो कोई ना कर सका वह तून  Read More...
Published on May 15,2020 06:35 PM
यह देश अभी आजाद नहीं
By Vani Dhamani in Poetry | Reads: 242 | Likes: 8
                     यह देश अभी आजाद नहीं  यह देश अभी आजाद नहीं यह देश अभी आजाद नहीं जहां नारी आज भी कुचली   Read More...
Published on May 15,2020 07:08 PM
VO KAVI KAUN HAI ??
By Sanika Kulkarni in Poetry | Reads: 88 | Likes: 0
Door baitha koe Apni dil ki baat Alfazon me liptakar Thoda wyang nichodkar  Iss kadar hoton par hasi  Le aata hai....   Hum kho jate hai  Uss duniya me jaha  Sab prem se hota hai...   Bhul jate hai  Kuch shan ke liye Apni zindagi ki kasotiyon ko Jinse sir me dard h  Read More...
Published on May 15,2020 07:28 PM
मन के दरवाजे |
By Kaveri Nandan Chandra in True Story | Reads: 103 | Likes: 1
कल मेरी फ्रेंड ने मुझे याद दिलाया की यह तीसरा लॉक डाउन है, करीबन २ पूरे माह गुज़र चुके हैं | यकीं मानिये पहले लॉक डाउन   Read More...
Published on May 16,2020 01:11 AM
कविता
By Vipul Vyas in Poetry | Reads: 91 | Likes: 0
#  हमारी गफलतों  की  सज़ा का अरसा बहुत लम्बा रहेगा,     वक़्त हमें यूं हीं दीमक की तरह  चाट्ता ही रहेगा  ।       Read More...
Published on May 16,2020 05:56 AM
पिज़्ज़ा और रोटी
By Sushmita Rani in True Story | Reads: 119 | Likes: 2
                          पिज़्ज़ा और रोटी और कैसा जा रहा है आप लोगो का क्वारांटाइन। सुना है कल पिज़्ज़ा   Read More...
Published on May 16,2020 07:12 AM
Saacha dost
By Pareen Vora in Poetry | Reads: 83 | Likes: 0
Jabse vo mere zindagi mai aaya hai,tabse meri zindagi puri badal gayi hai, Na Jane tune aaisa kya jaado kar diya hai muhj par ki mere saare dukh tere ban gaye hai, Tune har kadam pe mera saath nibhaya hai aur dete hi rahega, Bin kahe meri baato ko samj lena aur mere haste chahre k piche Ka ghum jaan  Read More...
Published on May 16,2020 08:38 AM
पुतलो की आवाज
By Arnab Sarkar in Horror | Reads: 157 | Likes: 0
यह कहानी शुरु ‌‌‌होती है एक घटना से, तब मैं बहुत छोटा था। शायद मैं चतुर्थ या पंचम कक्षा में पढ़ता था। मैं और मेरा   Read More...
Published on May 16,2020 10:38 AM
गर्मियों के दिन
By Himanshu in General Literary | Reads: 115 | Likes: 1
गर्मियों के दिन की पिछली कड़ी में आप सभी ने विजय और बाबा को समझा, गांव की पृष्ठभूमि पर आधारित, एक लघु कथा को समझा ही नह  Read More...
Published on May 16,2020 11:09 AM
Covid 19
By siddhee agarwal in Poetry | Reads: 99 | Likes: 0
अपने है,पर गले से लग नई सकते ।  चलने को सड़के है,पर इंसान नई । मंज़िल तक पोहोचने के लिए रेल गाड़ी है,पर उसे चलाने की अनुम  Read More...
Published on May 16,2020 01:36 PM
हम मजदूर
By Piyush in General Literary | Reads: 94 | Likes: 1
एक मजदूर की व्यथा , कैसे भूक से मर रहे है ये ,  ना खाने को अन्न है, और न रहने को छत है। जाये तो जाये कहाँ, कहे भी तो किससे   Read More...
Published on May 16,2020 02:14 PM
Sochti hu kai baar a khuda
By Isha in Poetry | Reads: 160 | Likes: 1
Sochti hu kai baar a khuda Kyu tune iss duniya mein nahi banaya sabko ek jaisaKitna accha hotaNa hote gile shikve logo k apasmeinNa hoti dharm ya jaati ki ladaiyaan Na hota ladka ya ladki mein bhedbhav Aur na hoti garib aur amiroo mein koi sima.Kitna accha hota Sab rehte sath mein bina koi shikayatS  Read More...
Published on May 16,2020 04:15 PM
बहुत शोर था समाज में
By Ashisha Singh Rajput in Poetry | Reads: 79 | Likes: 1
                         ।।  शोर वाला समाज ।। बहुत शोर था समाज में । क्रोध था सबकी आवाज़ में ।। सब एक दूसर  Read More...
Published on May 16,2020 05:56 PM