जब दर्द का इलाज़ न मिले ज़माने में - आशु चौधरी ''आशुतोष

By Ashu Choudhary ''Ashutosh in Poetry
| 1 min read | 379 कुल पढ़ा गया | कुल पसंद किया गया: 0| Report this story
X
Please Wait ...