Join India's Largest Community of Writers & Readers

Share this product with friends

Kavyamala / काव्यमाला मेरे बचपन की रचनाएं/ Mere Bachpan ki Rachnaye

Author Name: Mridul Dhingra | Format: Paperback | Genre : Poetry | Other Details

काव्य संग्रह काव्यमाला-मेरे बचपन की रचनाएं लेखक का पहला काव्य संग्रह है। इसमें कुल 50 कविताओं को शामिल किया गया है। ये कविताएं  कवि द्वारा अपने बाल्यकाल में लिखी गई थी। यद्यपि यह कविताएं कई वर्ष पूर्व लिखी गई थी परंतु यह कविताएं आज भी अत्यधिक प्रसांगिक है। इन कविताओं में जीवन के विविध पक्षों को समाहित किया गया है। अनेक कविताएं राष्ट्रप्रेम से संबंधित है। इसके साथ ही अनेक कविताएं सामाजिक एवं राजनीतिक विषयों से संबंधित है। ये कविताएं  व्यक्ति, समाज एवं राष्ट्र को जगाने का कार्य करती हैं।

Read More...
Paperback
Paperback 100

Inclusive of all taxes

Delivery

Enter pincode for exact delivery dates

Also Available On

मृदुल ढींगरा

मृदुल ढींगरा(जन्म वर्ष 1990) हरियाणा के अंबाला जिले के नारायणगढ़ शहर में अपने परिवार के साथ रहते हैं। इनका शैक्षणिक रिकॉर्ड बहुत अच्छा रहा है। इन्होंने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से इतिहास विषय में  एम ए तथा एमफिल किया है।  लिखने का इनको बचपन से ही शौक रहा है। इनकी रचनाएं अनेक पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित हो चुकी हैं। लिखने के साथ-साथ इनको किताबें पढ़ना भी अच्छा लगता है। वर्तमान में ये राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय नारायणगढ़(जिला अंबाला) में इतिहास विषय के असिस्टेंट प्रोफेसर के रूप में कार्यरत हैं।

Read More...